गार्ड के 90वें जन्मदिन पर भामाशाहों का सम्मान

Powered by Blogger.
प्रदेशभर से आए महासभा के पदाधिकारियों मालाएं पहनाकर एवं साफे बंधाकर उनकी लंबी उम्र की कामना की
जयपुर. राजस्थान गुर्जर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रामगोपाल गार्ड का 90वां जन्मदिन गुरुवार को त्रिमूर्ति सर्किल के पास राधाबल्लभ गार्डन में मनाया गया। विभिन्न जिलों से आए महासभा के पदाधिकारियों ने मालाएं पहनाकर एवं साफे बंधाकर उनकी लंबी उम्र की कामना के साथ उन्हें बधाई दी। इस मौके पर महासभा के पदाधिकारियों एवं समाज के भामाशाहों का भी सम्मान किया गया।
कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना के साथ की गई। रामगोपाल गार्ड एवं महासभा के अन्य पदाधिकारियों ने भगवान देवनाराण की तस्वीर पर पुष्प चढ़ाए। महासभा के जयपुर शहर जिलाध्यक्ष सरदार चेची, सामूहिक विवाह आयोजन समिति जयपुर के अध्यक्ष रमेशचंद चेची और प्रदेश प्रभारी ने गार्ड को अभिनंदन पत्र भेंट किया। अभिनंदन पत्र को पढ़कर भी सुनाया गया। इसके बाद प्रदेशभर से आए महासभा के पदाधिकारियों को गार्ड का सम्मान करने के लिए एक-एक करके मंच पर बुलाया गया । ऐसा इसलिए किया गया ताकि मंच पर ज्यादा भीड़ नहीं हो और व्यवस्था बनी रहे। लोगों ने उन्हें मालाओं से लाद दिया और जमकर साफे बंधाए। इस दौरान समाज के भामाशाहों को समाजिक कार्यों में दिए गए योगदान के लिए साफा बंधाकर एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। अंत में भगवान देवनारायण भगवान की आरती की गई। इससे पूर्व महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष कालूलाल गुर्जर ने कहा कि रामगोपाल गार्ड ने अपना संपूर्ण जीवन समाज के लिए समर्पित किया है। हमें इनके व्यक्तित्व और सामाजिक कार्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए।
कार्यकारिणी को दिलाई शपथ
राजस्थान गुर्जर महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री कालूराम गुर्जर ने महास्भा के जयपुर शहर जिलाध्यक्ष सरदार सिंह चेची उनकी कार्यसमिति के पदाधिकारियों सहित महिला प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष हेमलता डोई को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने शपथ पत्र पढ़ा और कार्यकारिणी सदस्यों ने उनके साथ-साथ उसे दोहराया।
महिला प्रकोष्ठ का गठन, हेमलता डोई अध्यक्ष
समारोह के दौरान राजस्थान गुर्जर महासभा में महिला प्रकोष्ठ की कमी की बात कही गई। इस पर सर्वसम्मति के बाद कार्यकारी अध्यक्ष कालुराम गुर्जर ने महिला प्रकोष्ठ बनाने की घोषणा की। प्रकोष्ठ की पहली प्रदेश अध्यक्ष हेमलता डोई चुनी गई। डोई को मंच पर बुलाकर उनका सम्मान भी किया गया।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं