देव भगवान के जयकारों से गूंजा जौधपुरिया

Powered by Blogger.


भगवान देवनारायण के 1100वें प्रकाशोत्सव पर मेले में उमड़ा गुर्जर समाज

निवाई-टोंक (कजोड़मल गुर्जर). गुर्जर समाज के बड़े तीर्थों में जगन्नाथजी जितना दर्जा रखने वाले देवधाम जौधपुरिया में भगवान देवनारायण के 1100वें प्रकाशोत्सव पर दो दिवसीय मेला लगा। अपनी मनौतियां लिए दूर-दूर से आए श्रद्धालुओं ने मंदिर में मत्था टेका और अखंड ज्योति के दर्शन किए। मेले में समाज की प्रतिभाओं व भामाशाहों का भी सम्मान किया गया।
   श्री देवनारायण मन्दिर ट्रस्ट जोधपुरिया के के महा मंत्री रामकिशन बहादुरपुरा के ने बताया कि विधिवत पूजा अर्चना के बाद भोपा ने मंदिर के शिखर पर ध्वज चढ़ा कर मेले का शुभारंभ किया। मन्दिर ट्रस्ट के अध्यक्ष केसर लाल गुर्जर एवं कोषाध्यक्ष रामेश्वर पोसवाल ने श्रद्धालुओं का स्वागत किया। मंदिर में दर्शन और पूजा अर्चना के बाद श्रद्धालुओं ने सरोवर में स्नान किया।
...और कांसी की थाली पर बना जाता है कमल का फूल
आधी रात को जब मेला अपने चरम पर होता है मंदिर का भोपा कन्हैया लाल बगड़ावत गाथा का गान करते हुए नृत्य करता है। इस दौरान वह एक कांसे की थाली को अपनी अंगुली पर नचाता रहता है। वह जब रुकता है ओर थाली को अंगुली से उतारता है तो उसपर कमल का फूल मंडा हुआ होता है। भगवान देवनारायण का जन्म कमल के फूल में हुआ था। ऐसे में श्रद्धालु इस कमल के फूल का दर्शन कर खुद को धन्य मानते हैं। कहा जाता है कि देव दर्शन करने पर मनोकामना तो पूरी होती है 12 महीने तक शरीर निरोग रहता है ।
देव भगवान देते हैं मनोकामना की पाती
 भगवान देवनारायण के मन्दिर के मन्दिर में समाज के लोग अपने कामों के लिए पाती भी लेते हैं। वे अपनी मनौती कागज पर लिख कर भोपा को दे देते हैं। भोपा उस पर्ची को देवजी के आगे रख देता है। थोड़ी ही देर में नीम की पत्ती उस पर आ गिरती है। इसे ही पाती कहते हैं। पाती मिलने का मतलब है कि मनौकामना पूरी होगी। यदि ऐसा नहीं होता है तो समझा जाता की काम के पूरा होने में संदेह है।
अखंड ज्योत बढ़ाती है ज्योति
 मंदिर परिसर में सालों से अखंड ज्योत जल रही है। समाज के लोगों में मान्यता है कि इस ज्योत को देखने और इसका घी आंखों में डालने से नंत्र ज्योति बढ़ती है। इसके अलावा इस घी से जोड़ों का दर्द भी ठीक होता है।
 संगठित होंगे तभी ले पाएंगे आरक्षण- बिधूड़ी

राजस्थान सरकार में संसदीय सचिव राजेन्द्र सिंह बिधूड़ी ने कहा कि  गुर्जर समाज का अतीत गौरवशाली रहा है, किन्तु वर्तमान समय की परिस्थितियों को देखते हुए हम अन्य समाजों की तुलना में काफी पिछड़े हुए हैं। इस पिछड़ेपन को दूर करना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।
बिधूडी श्री देवनारायण जन्मोत्सव पर गुर्जर प्रतिभा विकास समिति राजस्थान एवं श्री देवनारायण मन्दिर ट्रस्ट जोधपुरिया के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित गुर्जर प्रतिभा छात्रवृति वितरण  समारोह में सम्बोधित कर रहे  थे। उन्होने कहा कि आरक्षण आन्दोलन में 72 कुर्बानियों के बावजूद आज तक समाज को कुछ नहीं मिल पाया है। जब तक समाज के 3-4 लाख लोग संगठित होकर शान्तिप्रिय तरीके से सरकार को अहसास नहीं कराएंगे, आरक्षण मिल पाना अंसभव है। समाज के यदि 30-40 विधायक विधान सभा में पहुंचेगें तब ही समाज की बात सही ढंग से रख सकगेंा। उन्हानें 11 हजार रूपये प्रतिभा विकास समिति को नगद  दिए तथा ट्रस्ट को 51 हजार रुपये देने  की घोषणा की । 
शिक्षा से ही होगा समाज का विकास - अरूण गुर्जर 

भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी अरूण कुमार गुर्जर संयुक्त कमिश्नर आयकर विभाग नई दिल्ली  ने कहा कि आज का युग प्रतिस्पर्धा का युग है जिसमें अन्य समााज के लोग शिक्षा के क्षेत्र में आगे आएं।  सभी माता-पिता अपने बालकों को उचित शिक्षा उपलब्ध कराने का संकल्प लें। उन्होंने कहा कि गुर्जर समाज में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, अपितु उनको सही मार्गदर्शन एवं सहयोग की आवश्यकता है। 
अगले साल बढ़ाई जाएगी छात्रवृत्ति की राशि : शिवदयाल गुर्जर
शिवसाधना चेरिटेबल ट्रस्ट के प्रधान ट्रस्टी शिव दयाल गुर्जर  ने समाज की 51 गुर्जर प्रतिभाओं को 61 हजार रूपये के चेक वितरित करते हुए कहा कि आगामी वर्ष से कक्षा 10 के लिए 1000 से बढ़ाकर 1800 रुपए एवं कक्षा 12 के लिए 1400 से बढ़ाकर 2400 रुपए तथा इंजीनियरिंग एवं मेडिकल सेवाओं में पुस्तकों के लिए अनुदान देने की घोषणा की।
गुर्जर समाज की 71 प्रतिभाएं सम्मानित
देवधाम जोधपुरिया में गुर्जर प्रतिभा सम्मान एवं छात्रवृति वितरण समारोह में शिव-साधना चेरिट टेबल ट्रस्ट एवं अन्य भामाशाहों की ओर से समाज की 71 प्रतिभाओं को छात्रवृति वितरित की गई । समारोह संयोजक गिरिराज प्रसाद गुर्जर  ने बताया कि शिवसाधना चेरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा समाज की 51 गुर्जर प्रतिभाओं को 61 हजार रूपये के चैक वितरित किए गए। प्रवक्ता कजोड़ मल गुर्जर ने बताया कि श्री देवनारायण मन्दिर ट्रस्ट जोधपुरिया के संरक्षक, पुरुषोतम फागणा निवासी सांगानेर ने  21000 रुपए, श्री उदय लाल गुर्जर पूर्व प्रधान देवली, द्वारा 11000 रुपए, श्री रामचन्द्र गुर्जर सरपंच ग्राम पंचायत  खरेड़ा टोंक द्वारा 11000 रुपए, श्री कजोड़ मल गुर्जर व्याख्याता अंग्रेजी, निवासी गणेशपुरा, निवाई टोंक द्वारा  समाज की टॉप 10 एवं 12 वीं की 5-5 बालक एवं  बालिकाओं को 11000 रुपए नगद देकर प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। समाज के सर्वश्रेष्ठ धावक ओम प्रकाश गुर्जर पीनणी मालपुरा का सम्मान किया गया। आर्थिक रूप से कमजोर एवं प्रतिभाशाली राष्ट्रीय धावक को श्री देवनारायण मन्दिर ट्रस्ट ने जन सहयोग से 51 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की जिससे वह प्रशिक्षण प्राप्त कर अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर समाज का नाम रोशन कर सके। संसदीय सचिव राजेन्द्र बिधूडी ने 5 हजार नगद पुरस्कार दिए  तथा 50 हजार रुपए देने एवं आगे हर संभव सहायता का आश्वासन दिया।

 वोट की ताकत को पहचाने समाज : नाथू सिंह
समाज के भामाशाहों का भी किया गया सम्मान
श्री देव नारायण मन्दिर ट्रस्ट जोधपुरिया के तत्वावधान में भामाशाहों का भी सम्मान किया गया। समारोह में पूर्व मंत्री नाथू सिंह गुर्जर ने समाज के लोगों से कहा कि वे अपनी वोट की ताकत को पहचानें। जिस दिन समाज इस ताकत को समझ गया सरकार खुद आगे से आरक्षण देगी। उन्होंने समाज में व्याप्त कुरीतियों पर प्रहार करते हुए कहा कि गुर्जर समाज के लोग एक दूसरे की होड़ में नुक्तों में लाखों रूपये फूंक देते हैं। हमें यह समझना होगा कि इस होड़ के बजाय हम अपने बच्चों को पढ़ाने में होड़ करें, ताकि उनका जीवन संवर सके।
समारोह में अनुसूचित जाति के प्रदेशाध्यक्ष सतीश चंदेल ने कहा कि कोई भी समाज शिक्षा के बिना आगे नहीं बढ सकता है। अत: बालिका शिक्षा के क्षेत्र में गुर्जर समाज को आगे आना चाहिए। मंदिर ट्रस्ट को धार्मिक गतिविधियों के साथ ही शैक्षणिक व सह शैक्षिणिक गतिविधियों को भी अपनाना चाहिए ।
इससे पूर्व नाथू सिंह गुर्जर ने भामाशाहों राम स्वरूप डोई जीवली निवाई (21 हजार) ,मनफूल गुर्जर पं स सदस्य निवाई (11 हजार), छोगा  लाल गुर्जर जिला परिषद सदस्य मालपुरा (11 हजार), रामसहाय गुर्जर लहल टोंक (11 हजार) का सम्मान किया।
बालिका शिक्षा में समाज काफी पीछे : बबीता गुर्जर 
अखिल भारतीय गुर्जर महिला महासभा की राष्ट्रीय अध्यक्ष बबीता गुर्जर ने कहा कि राजस्थान में गुर्जर समाज बालिका शिक्षा में बहुत पीछे है। किसी भी समाज की उन्नति में महिलाओं की विशेष भूमिका होती है, अत: हमें बालिका शिक्षा के प्रति जागरूक होना होगा एवं बालिकाओं को पढाना होगा।
समारोह में कश्मीर के कमर  रब्बानी चेची, सुरज्ञान खाटरा, रामेश्वर पोसवाल, समारोह में मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष केसरलाल गुर्जर मंदिर ट्रस्ट के महामंत्री रामकिशन बहादुरपुरा, कोषाध्यक्ष रामेश्वर पोसवाल, उपाध्यक्ष सुरज्ञान सिंह खाटरा, पार्षद रतनदीप गुर्जर, , विधान सभा युवा कांग्रेस सुरेश डोई, मांगी लाल डोई,  रामफूल पटवारी, सुरज्ञान वकील, लक्ष्मण मास्टर, देवालाल मैम्बर, डाक्टर बदरी, श्योजी राम फोजी , रामभजन गुर्जर, प्रधूम्न्न गुर्जर, सवाई भोज, कालू राम टोंक भंवर  लाल मालपुरा , जगदीश मालपुरा,सवाई भेज, श्योजी लाल गुर्जर नवरंगपुरा ,सुरजकरण गुर्जर, श्रवण भोपा  सहित समाज के अनेक लोग उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं