Saturday, November 05, 2011

हक न मिला तो आंदोलन

बिचौला के बाग में गुर्जर महापंचायत में गरजे बैंसला, 25 नवंबर तक सरकार को दिया अल्टीमेटम, 20 को भंडारेज में होगा आंदोलन का फैसला
मनियां ( धौलपुर). गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि हम अशांति नहीं चाहते यदि हमको हक नहीं मिला तो शीघ्र धौलपुर से नया आंदोलन शुरू करेंगे। 25 नवंबर तक सरकार ने आरक्षण नहीं दिया तो आंदोलन को तेज किया जाएगा। आंदोलन की रूपरेखा तैयार करने के लिए 20 नवंबर को दौसा के पास कस्बा भंडारेज में महासभा का आयोजन किया गया है। वे गुरुवार को मनियां क्षेत्र के गांव बिचौला के बाग में आयोजित गुर्जर महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस समाज का शासन व प्रशासन में हिस्सा नहीं होता उसकी कोई नहीं सुनता। हम शासन व प्रशासन में हिस्सा लेकर रहेंगे। यह देश जातियों का देश है। जिस जाति के पास पावर है। वहीं समाज शासन व प्रशासन में हिस्सा बंटा लेता है, लेकिन गुर्जर समाज को अन्य जातियों ने हाईजैक कर लाभ उठा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि 20 नवम्बर को गुर्जर आरक्षण आंदोलन की रूपरेखा तैयार करने के लिए दौसा के पास कस्बा भंडारेज महासभा आयोजित की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा गुर्जर समाज के साथ न्याय में क्यों देरी कर रही है। यह बात समझ में नहीं आ रही। यदि समाज को न्याय नहीं मिला तो सरकार से किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं दिल की बात कहने आया हूं। क्योंकि अब सरकार ने गुर्जरों के साथ चालाकी की है। कर्नल बैंसला ने कहा मैं जब समाज की बेटियों को गोबर थापते देखता हूं तो मेरा मन दु:खी होता है। जिस तरह से अन्य समाज की बेटियां पढ़ लिख कर उच्च प्रशासनिक पदों पर आसीन है। उन्होंने कहा कि समय के साथ सोच को बदलना होगा। मेरा सपना है कि गांव में पढ़ा लिखा गुर्जर समाज का विद्यार्थी हवाई जहाज उठाएं और देश व समाज की सेवा में अपना योगदान करें। कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि हमने सरकार से शैक्षणिक स्तर पर पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग की, लेकिन सरकार की ओर से इस पर अभी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। समाज इस पर चुप नहीं बैठेगा।
गुर्जर नेता कैप्टन हरप्रसाद ने कहा कि सरकार ने गुर्जर समाज के हर फैसले को माना है, लेकिन उसकी क्रियान्वित नहीं किया है। सरकार को गुर्जर समाज की जायज मांगे माननी होंगी। उन्होंने कहा समाज ने अब तक रेल रोका, सड़क जाम किया। यदि सरकार ने अब समाज की मांगे नहीं मानी तो पूरे प्रदेश में बिजली बंद करेंगे तथा दुग्ध की सप्लाई रोक दी जाएगी। हरप्रसाद ने कहा कि सरकार अंजाम भुगतने को तैयार रहे। इससे पहले महासभा के आयोजक पंचायत समिति सदस्य सरनाम सिंह गुर्जर ने अतिथियों का माल्यार्पण व साफा बांध कर स्वागत किया। गुर्जर नेता भूरा भगत, श्रीराम बैंसला, जिलाध्यक्ष पूरन सिंह गुर्जर, मुरारी लाल घूरैया, यदुनाथ सिंह गुर्जर, केदार पोषवाल, रामनाथ पोषवाल, बंटी भरतपुर, मान सिंह, सौदान सिंह, रमेश गुर्जर, महेश सरपंच निधारा, हरि सिंह गुर्जर, मण्डेश्वर सिंह गुर्जर आदि ने विचार रखे।
सुरक्षा के कड़े इंतजाम
गांव बिचौला में आयोजित गुर्जर महापंचायत को लेकर प्रशासन व पुलिस की ओर से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। प्रशासन द्वारा आगरा-बॉम्बे रेलवे ट्रैक को पूरी तरह से अपने कब्जे में ले लिया तथा जगह-जगह पुलिस जाप्ता तैनात किया। सभा स्थल पर साधा वर्दी में पुलिस के जवान तैनात किए गए। अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रवीण लखेरा, एएसपी किशोरीलाल मीणा, एसडीएम रामअवतार शर्मा, तहसीलदार नेत्र पाल पाठक, पुलिस उपाधीक्षक श्रीमनलाल मीणा, दिहौली थाना प्रभारी अनिल जसोरिया, ओमप्रकाश जोशी, बक्साराम जाट, बरैठा चौकी प्रभारी रामभजन सिंह सहित पुलिस जवान तथा जीआरपी मांगरोल फाटक, जलालपुर फाटक तथा बरैठा रेलवे लाइन तक तैनात रहे। पंचायत स्थल पर नायब तहसीलदार रामनिवास अग्रवाल, सरमथुरा थाना प्रभारी लखन खटाना सहित सीआईडी के अधिकारी मौजूद थे।
मेरी तमन्ना और जीवित रहूं
सभा स्थल पर गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी बैंसला ने कहा कि समाज भगवान से प्रार्थना करें की मेरी उम्र 15-20 वर्ष और बढ़ जाए। क्योंकि मैं समाज को बदले हुए रूप में देखना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि मेरी तमन्ना है कि समाज के युवा पढ़ लिखकर आईएएस व आईपीएस बने और मेरी कार की खिड़की खोल कर कहे की बाबा चाय पी ले। यहीं मेरा सपना है।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं