Thursday, December 30, 2010

कहां क्या दर्जा


हिमाचल और जम्मू कश्मीर में गुर्जरों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा दिया गया है जबकि उत्तर प्रदेश में गुर्जर समुदाय को मुख्य पिछड़ा वर्ग में रखा गया है। दिल्ली और हरियाणा में गुर्जर अन्य पिछड़ा वर्ग में हैं। राजस्थान में गुर्जर मूल ओबीसी जातियों में से एक हंै। वर्ष 2006 में राजस्थान में गुर्जरों ने अनुसूचित जनजाति में शामिल होने की मांग को लेकर आंदोलन शुरू  किया, लेकिन इस मामले पर गठित जस्टिस चौपड़ा आयोग ने गुर्जरों को एसटी में शामिल करने की सिफारिश नहीं की। इसके बाद सरकार ने गुर्जरों को विशेष पिछड़ा वर्ग में शामिल कर 5 फीसदी आरक्षण देने का प्रस्ताव रखा, जिस पर गुर्जर सहमत हो गए। लेकिन विशेष आरक्षण पर हाईकोर्ट की रोक के बाद मामला और ज्यादा उलझ गया।
(दैनिक भास्कर से साभार)

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं