‘नेताओं में वर्चस्व की लड़ाई, खमियाजा भुगत रहा है गुर्जर समाज’

Powered by Blogger.
अलवर. आरक्षण की मांग को लेकर संघर्ष में कभी भी कमी नहीं रही पर हम वार्ता की टेबल पर हारे। नेताओं में वर्चस्व की लड़ाई रही। इसका खमियाजा समाज को भुगतना पड़ा है। यह बात पूर्व विधायक अतरसिंह भडाना ने सोमवार को यहां सर्किट हाउस में प्रेसवार्ता में कही। उन्होंने कहा कि एसबीसी में चार प्रतिशत और आरक्षण की मांग को लेकर ३ सितंबर को करौली के जगदीश धाम में गुर्जर समाज के पंच पटेलों की बैठक होगी।

इसमें गाडिया लोहार, रैबारी और बंजारा समाज के नेता भी शामिल होंगे। इसमें आगे की रणनीति का फैसला लिया जाएगा। इस बैठक में केंद्रीय मंत्री सचिन पायलट और कर्नल किरोड़ी बैसला को भी आमंत्रित किया गया है। अब आंदोलन का निर्णय सामूहिक रूप से लिया जाएगा। इसके लिए २१ सदस्यीय संयुक्त संचालन समिति गठित की गई है। इसी क्रम में ५ सितंबर को सिकंदरा के केलाई देवनारायण मंदिर में प्रदेशभर के गुर्जरों की महापंचायत होगी।

पत्रकार वार्ता में राजस्थान पंचायती राज कर्मचारी संघ के प्रदेशाध्यक्ष मूलचंद गुर्जर, समाज के नेता वीरेंद्र सिंह, राजेंद्र कसाना आदि भी उपस्थित थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं