गुर्जर समाज को आरक्षण दिलाना मुख्य मकसद : बैसला

Powered by Blogger.

दाखियां गांव में लाच्छू माता मंदिर का जीर्णोद्घार 
मेहंदवास. दाखियां गांव में गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह ने कहा कि उनके जीवन का मुख्य मकसद समाज को आरक्षण दिलाना है। गुर्जर समाज के महिला पुरुषों की भारी भीड़ के बीच कर्नल बैसला ने फिर से हुंकार भरी कि सरकार ने उनकी मांगों पर ध्यान नही दिया जो फिर से आरपार का आंदोलन किया जाएगा।

गुर्जर आरक्षण मंच के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला, डा. रूपसिंह व उपाध्यक्ष कैप्टन हरिसिंह शनिवार को दाखियां गांव में लाच्छू माता मंदिर के जीर्णोद्घार की पूर्णाहुति समारोह में लोगो को संबोधित कर रहे थे। कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला ने जयकारों के बीच मौजूद लोगों को कहा कि वे एकता बनाए रखते हुए उनके हाथ मजबूत करें। सरकार की नियत में खोट बताते हुए उन्होने कहा कि ५ सितंबर तक आरक्षण की मांगों पर ध्यान नही दिया गया तो फिर से एक बड़ा आंदोलन करने पर विवश होंगे। मौजूद गुर्जर सरदारों से उनका साथ देने की बात कहते हुए बैसला ने कर्जमुक्त रहकर ही गुर्जरों का विकास संभव बताया।

भावुक होते हुए बैसला ने कहा कि जब समाज की महिलाओं को वे गोबर थोपते हुए देखते है, तो उनके मन में ज्वालाुखी फूट पड़ता है। क्षेत्र में बालिकाओं का आवासीय स्कूल खुलवाने का वादा करते हुए उन्होने कहा कि वे समाज की बेटियों को भी कलेक्टर की कुर्सी पर बैठे देखना चाहते है। मंच के उपाध्यक्ष केप्टन हरिसिंह ने सरकार को ललकारते हुए कहा कि सरकार लट्ठ की भाषा समझती है। इसलिए गुर्जर समाज को फिर से आंदोलन के लिए तैयार रहने को कहा। डॉ. रूपसिंह ने टोंक को देवभूमि बताते हुए हरसल गुर्जर समाज द्वारा तूड़ी की राशि से बनाए गए लाच्छू माता मंदिर को सराहनीय कदम बताया।

उन्होंने कहा कि कर्नल बैसला ने हमे जो दिशा दी है उसे हरहाल में पूरी की जानी चाहिए। आरक्षण मिलने तक चुप नही बैठकर समाज के ७१ लोगो की कुर्बानी व्यर्थ नही गंवाने की बात कही। खरेड़ा सरपंच रामचंद्र गुर्जर ने समाज के लोगो को तीन आंखे रखते हुए एक स्कूल पर दूसरी खेत पर तथा तीसरी वोट पर रखने की अपील करते हुए गुर्जर समाज को कर्नल का साथ देने की बात कही।

समारोह को पूर्व उप जिला प्रमुख श्योबक्श गुर्जर, राजेंद्र गुर्जर, केएल गुर्जर श्योजीराम जेतलिया सहित अन्य लोगो ने भी संबोधित किया।

समाज की महिलाओं से की चर्चा 

 लाच्छू माता मंदिर का लोकार्पण करने के बाद बैसला ने मार्ग मे घूंघट की ओट में खड़ी महिलाओं से राम राम करते हुए बालिकाओं की शिक्षा पर ध्यान देने व समाज सेवा को ही भक्ति मानकर काम करने को कहा।


ये लोग थे मौजूद

 गदीश महुआ, उपसरपंच आडी गुर्जर, रामलाल संडीला, सीताराम गुर्जर, पीटीआई केसरलाल, रामनारायण दीवान, राजूलाल, रामनिवास गुर्जर, धर्मराज गुर्जर, प्रेमलाल, रमेश, रोडू, घांसीलाल, देवकरण, मेवाराम तथा समाज के लोग मौजूद थे।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं