देवमंड मंदिर की बावड़ी में तोडफ़ोड़

Powered by Blogger.
गड़ा धन निकालने के लालच में किसी ने की तांत्रिक पूजा, पट्टियां गिराकर व पक्का निर्माण तोड़कर किया करीब दो लाख का नुकसान, आक्रोशित गुर्जर समाज के लोगों ने तहसीलदार, थाना प्रभारी व एसडीएम को ज्ञापन देकर की आरोपियों को पकडऩे की मांग

टोडारायसिंह (टोंक जिला). देवमंड मंदिर (देवनारायण) की बावड़ी में पिछले दिनों तोडफ़ोड़ कर देने से गुर्जर समाज में आक्रोष है। इसके विरोध में गुर्जर समाज के लोगों ने थाना प्रभारी व तहसीलदार को ज्ञापन देकर आरोपियों को शीघ्र पकडऩे की मांग की।
सरपंच रामचंद्र गुर्जर की अगुआई में गए समाज के प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि टोडारायसिंह के बागात में गुर्जर समाज का देवमंड मंदिर (देवनारायण) है। वहां पुराना धन गड़ा होने के लालच में 28-29 अगस्त की रात कुछ व्यक्तियों ने तांत्रिक पूजा पाठ किया और कर धन निकालने की नीयत से टेहलियां व पट्टियां गिरा दी। इससे करीब 2 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। प्रतिनिधि मंडल में पूर्व पालिका अध्यक्ष किशन लाल गुर्जर, पुजारी जगदीश गुर्जर, रामकरण गुर्जर, जितेन्द्र गुर्जर, रामराज गुर्जर, नंद लाल गुर्जर, काशीराम गुर्जर, भोमाराम गुर्जर, सोहन लाल, लादू लाल गुर्जर, हेमराज गुर्जर, गंगाराम गुर्जर सहित गुर्जर समाज के कई लोग शामिल थे।
गुर्जर महासभा के प्रदेश मंत्री ने किया दौरा
राजस्थान गुर्जर महासभा के प्रदेश मंत्री व जिला परिषद सदस्य छोगा लाल गुर्जर ने देवमंड मंदिर पहुंच कर तोड़ी गई बावड़ी का जायजा लिया। उन्होंने मोबाइल फोन पर कलेक्टर व एसपी टोंक को घटना की जानाकारी दी। बात करने के बाद उन्होंने बताया कि कलेक्टर ने उन्हें शीघ्र कार्रवाई के लिए आश्वस्त किया है।
कार्रवाई नहीं किए जाने पर जताया रोष
टोडारायसिंह . देवमंड मंदिर की बावड़ी की दीवार तोडऩे के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से आक्रोशित गुर्जर समाज के लोगों ने देवनारायण मंदिर परिसर में बैठक कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। गुर्जर समाज के तहसील अध्यक्ष केसर लाल गुर्जर ने कहा कि मामले की थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई जा चुकी है। साथ ही इस कार्य में काम में ली गई दो मोटरसाइकिलों को समाज के लोगों ने पकड़ कर पुलिस सौंप दी हैं। इसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं