Tuesday, August 31, 2010

आंदोलन तेज करने की दी चेतावनी

पांच सूत्री मांगों को लेकर गुर्जरों ने विधानसभा पर धरना दिया, मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष को मांग पत्र सौंपा
विधानसभा पर धरना देते गुर्जर समाज के लोग।
 जयपुर. विशेष आरक्षण सहित पांच सूत्री मांगों को लेकर गुर्जर समाज के नेताओं ने मंगलवार को विधानसभा के पास धरना दिया। समाज का प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और विधानसभा अध्यक्ष दीपेंद्रसिंह शेखावत से भी मिला और उन्हें मांग पत्र सौंपा।
दोपहर दो बजे ज्योति नगर टी पॉइंट पर शुरू होने वाले धरने में शामिल होने के लिए प्रदेशभर से लोगों के आने का सिलसिला दो घंटे पहले ही शुरू हो गया था। धरनास्थल विधायक हेमसिंह भड़ाना ने देवनारायण बोर्ड की राशि घटाने पर सरकार की निंदा की और आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी। धरने में पूर्व विधायक दांताराम गुर्जर, पूर्व मंत्री नाथूसिंह, कालूलाल गुर्जर, पूर्व जिला प्रमुख रामगोपाल गार्ड, अखिल भारतीय गुर्जर आरक्षण समिति के मुख्य संरक्षक रामवीरसिंह बिधूड़ी, राजस्थान युवा गुर्जर आरक्षण समिति के फतेहसिंह डोई व ओमप्रकाश गुर्जर सहित सैकड़ों लोग शामिल हुए। इसके बाद मुख्यमंत्री और विधानसभा अध्यक्ष को मांग पत्र सौंपा गया, जिसमें  गुर्जर समाज को पांच प्रतिशत आरक्षण देने, गुर्जर आंदोलन के दौरान गुर्जर नेताओं और समाज के लोगों के खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमे वापस लेने, आंदोलन के दौरान गिरफतार लोगों को तुरंत करने, आंदोलन के दौरान घायल हुए लोगों को 10 हजार रुपए प्रतिमाह पेंशन देने, गुर्जर गांवों के विकास के लिए भगवान देवनारायण विकास बोर्ड को 500 करोड़ रुपए स्वीकृत करने और सेना में गुर्जर रेजिमेंट की स्थापना के लिए केंद्र को सिफारिश भेजने की मांग की गई है।
विधानसभा पर धरना देते गुर्जर समाज के लोग।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं