Monday, April 19, 2010

बेकार नहीं जाने देंगे शहीदों की कुर्बानी

त्रवेणीधाम स्थित गुर्जर धर्मशाला में भी गुर्जरों ने महापड़ावडाल डाला, जब तक आरक्षण नहीं मिलगा उठेंगे नहीं
(जयपुर जिला). आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जरों का आंदोलन तेज होता जा रहा है। एक ओर जयपुर में सरकार से वार्ता चल रही है तो दूसरी ओर गुर्जर दबाव बनाने के लिए पड़ाव पर पड़ाव डालते जा रहे हैं। रविवार से देवनारायण सेवा संस्थान त्रिवेणीधाम शाहपुरा के तत्वावधान में त्रिवेणीधाम स्थित गुर्जर धर्मशाला में भी गुर्जरों ने महापड़ावडाल दिया।
महापड़ाव को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि गुर्जर शहीदों की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी। आरक्षण हमारा हक है और इसे हम लेकर रहेंगे। जब तक आरक्षण नहीं मिलेगा पड़ाव जारी रहेगा। इसके लिए फिर से कुर्बानी देनी पड़ी तो हम पीछे नहीं हटेंगे। संघर्ष समिति अध्यक्ष छीतरमल खरलवा, देवनारायण संघर्ष समिति शाहपुरा के अध्यक्ष रघुवीर शरण सराधना, राजेंद्र चौहान, सुरेश खटाणा, सरदारमल गिराठी, बन्नाराम जुगराजपुरा, मूलचंद बलेसर, नाथू डोई, गोपाल सराधना, जगदीश, कालूराम सहित कई लोगों ने भी संबोधित किया।
गुर्जरियां भी उतरीं मैदान में
आरक्षण आंदोलन को लेकर चंदवाजी क्षेत्र के देवका हरवाड़ा स्थित देवनारायण मंदिर में चल रहे महापड़ाव में रविवार को महिलाएं भी शामिल हो गईं। यहां प्रभुदयाल सराधना के नेतृत्व में महापड़ाव चल रहा है, जिसमें ८४ गांवों से गुर्जर आए हैं। गुर्जर यूथ महासभा के जिलाध्यक्ष घनश्याम भड़ाणा, पूर्व उपप्रधान रामजीलाल गुर्जर, पंचायत समिति सदस्य राधेश्याम गुर्जर, पूर्व सरपंच हनुमान गुर्जर, सिरोही सरपंच रामेश्वर गुर्जर, पूर्व सरपंच मांगीलाल गुर्जर, समाज सुधार कमेटी अध्यक्ष सुवालाल खरलवा, सोनाराम गुर्जर सहित  सैकड़ों गुर्जर यहां डेरा डाले हैं।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं