Friday, April 09, 2010

किरोड़ी को किरोड़ी का समर्थन

दौसा के देवनारायण मंदिर में अनशन स्थल पर पहुंचे, बैसला को बंधाया साफा, बोले-आरक्षण के लिए गुर्जर शहीद होंगे, तो हम भी पीछे नहीं हैं
(दौसा जिला).  गुर्जरों की पांच प्रतिशत विशेष आरक्षण की मांग के लिए लड़ रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला को सांसद किरोडी लाल मीणा का भी साथ मिल गया है। सांसद मीणा गुरुवार को दौसा के देवनारायण मंदिर पर चल रहे गुर्जरों के अनशन में पहुंचे और बैसला को साफा बंधवाकर आरक्षण की लड़ाई में साथ देने की बात कही। उन्होंने कहा कि गलतफहमी ने गुर्जर व मीणाओं के बीच खाई पैदा कर दी थी। खाई को पाटने का इससे अ'छा मौका नहीं मिलेगा। आरक्षण के लिए गुर्जर शहीद होंगे, तो हम भी पीछे नहीं हैं। मीणा समाज गुर्जरों व सवर्णों के आरक्षण का पक्षधर है। उन्होंने कहा कि आरक्षण के लिए अहिंसात्मक आंदोलन कर सरकार के घुटने टिका दें। डॉ. किरोड़ी ने मीणा समाज के सांसद व विधायकों को चेतावनी दी कि वे सरकार पर दबाव बनाकर गुर्जरों को आरक्षण दिलाएं अन्यथा उन्हें गांवों में नहीं घुसने दिया जाएगा।
...तो आरपार की लड़ाई
इससे पूर्व दौसा के देवनारायण मंदिर में अनशन स्थल पर कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला के साथ समाज के लोगों ने आंदोलन की रणनीति  पर चर्चा की। अखिल भारतीय गुर्जर महापरिषद के उपाध्यक्ष उमराव सिंह डोई ने बताया कि 9 अप्रैल को सरकार का दिया समय पूरा हो जाएगा। सरकार ने वादा खिलाफी की तो आरपार की लड़ाई लड़ी जाएगी। जिला संयोजक हिम्मत सिंह पाडली, दिल्ली विश्वविद्यालय के अध्यक्ष मनोज चौधरी ने भी संबोधित किया।       
आरक्षण की मांग पर मीणा समाज गुर्जरों के साथ
(दौसा-सिकराय राघवेन्द्र गुर्जर). दौसा सांसद डां किरोडीलाल मीणा ने कहा कि हम पांच प्रतिशत विशेष आरक्षण की मांग पर गुर्जर समाज के साथ हैं यदि गुर्जर समाज अपने हक के लिए पांच कदम चलता है तो मै और मेरा मीणा समाज गुर्जर भाइयों से ग्यारह कदम आगे चलने के लिए तैयार हैं। यह बात उन्होंने सासंद आपके दार कार्यक्रम के दौरान सिकराय विधानसभा के पाँचौली गांव मे जनसभा में कही। सांसद मीणा ने कहा कर्नल हमारें सम्मानीय नेता है और उनके दारा किया जा रहा आन्दोलन अपने हक के लिए जायज है। इस अवसर पर पूर्व प्रधान रामप्रसाद मीणा ,सुबुध्दीराम मीणा, सिकराय प्रधान किशनप्यारी मीणा, उदयपुरा सरपंच ममतासिंह गुर्जर,पाँचौली सरपंच धर्मसिंह गुर्जर, जगदीश भालपुर, शिवचरण पीपलकी,शिम्भू पटेल, किशोर नेता शेखपुर,  महाराजसिंह गुर्जर, जवानसिंह, सुधीर कुमार पंच, सीताराम , कर्णसिंह नेता, नंगूराम उमरवाल, सुरेन्द्र गुर्जर, रामरस, बाबूलाल पूर्व सरपच  सहित प्रशासनिक अधिकारी व लोग मौजूद थे ।  

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं