Tuesday, March 09, 2010

देवनारायण योजना में गुर्जरों को विशेष पैकेज

एससी-एसटी की तर्ज पर 10 वीं के बाद उच्च शिक्षा तक मिलेगी विशेष छात्रवृत्त्ति, प्रशासनिक सेवा परीक्षा तैयारी के लिए मिलेगी सहायता
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा मंगलवार को पेश किए गए बजट में गुर्जर, बंजारा, गाडिय़ा लुहार और रैबारी जातियों के लिए देवनारायण योजना के तहत एक विशेष पैकेज देने की घोषणा की गई है।
गहलोत ने कहा कि एससी-एसटी की तर्ज पर गुर्जर, बंजारा, गाडिय़ा लुहार और रैबारी समुदाय के छात्रों लिए 10 वीं के बाद उच्च शिक्षा तक विशेष छात्रवृत्त्ति दी जाएगी। अगले साल में इस काम के लिए सरकार ने 25 करोड़ रुपए का प्रावधान कर दिया है। राज्य प्रशासनिक सेवा की परीक्षा तैयारी के लिए 50 हजार और अखिल भारतीय सेवाओं की परीक्षा की तैयारियों के लिए इन जातियों के युवाओं को एक लाख रुपए की सहायता दी जाएगी।
देवनारायण बोर्ड के जरिए योजनाएं चलाने के लिए 22 करोड़ का प्रावधान किया गया है। जिन इलाकों में विशेष पिछड़ा वर्ग का बाहुल्य है, वहां छह नए आईटीआई और 12 छात्रावास मंजूर किए गए हैं।
आंदोलन तो होकर रहेगा : बैसला
गुर्जर आंदोलन की अगुवाई कर रहे कर्नल किरोड़ीसिंह बैसला ने कहा कि आंदोलन तो होकर रहेगा। सरकार ने मीणा समुदाय को तो छात्रवृत्ति और आरक्षण दोनों ही दे रखे हैं। जब नौकरियां ही नहीं रहेंगी तो हम आरक्षण का क्या करेंगे। हमें 5 प्रतिशत आरक्षण नौकरियों में ही दिया गया था। सरकार अब उसे भी नहीं दे रही है। जब तक हमें 5 प्रतिशत का अंतरिम आरक्षण नहीं मिलेगा, तब तक चुप नहीं बैठेंगे। 

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं