Thursday, December 22, 2011

मेरा किसी राजनीतिक पार्टी से नाता नहीं : बैसला

बड़ागांव में गुर्जर महासम्मेलन : बैंसला ने कहा- जब तक सरकार में हिस्सेदारी नहीं बढ़ेगी, तब तक गुर्जरों की पहचान नहीं हो सकती
महवा (दौसा जिला). आरक्षण संघर्ष समिति संयोजक कर्नल किरोड़ीसिंह बैंसला ने कहा कि मैं हमेशा गुर्जर समाज के साथ रहूंगा। मेरा किसी भी राजनीतिक पार्टी से कोई नाता नहीं है। मैंने समाज के लिए हमेशा पैरवी की है और मैं एक दिन समाज को जीत दिलवाकर ही दम लूंगा। वे 20 दिसंबर को बड़ागांव में आयोजित गुर्जर महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।
गुर्जरों की बेटियां भी कलेक्टर बनें
बैसला ने कहा कि पावरफुल जातियां पावरहीन जातियों से बेगार कराना चाहती हैं। जब तक सरकार में हमारे समाज की हिस्सेदारी नहीं बढ़ेगी, तब तक गुर्जरों की पहचान नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि समाज शिक्षा के अभाव पिछड़ रहा है। अभिभावक शिक्षा को बढ़ावा देकर अपने समाज के विकास में सहयोग करें। समाज के बच्चों को ऐसी तालीम मिलें की ।
...तो यूपी में कांग्रेस को सिखाएंगे सबक
कर्नल बैसला ने मंच से सरकार को चेताया कि समय अवधि में हमारी मांग पूरी नहीं की गईं तो यूपी में होने वाले चुनावों में गुर्जर समाज का बच्चा?बच्चा वहां पहुंचकर कांग्रेस के खिलाफ मतदान की अपील करेगा। उन्होंने कहा कि मुझे आंदोलन करने में समय नहीं लगता आंदोलन मेरी चुटकी का खेल है। इस बार होने वाले गुर्जर आंदोलन में सरकार को ईंट का जबाव पत्थर से देंगे।
सभी प्रदेशों के गुर्जर समाजहित में बैसला के साथ
अंतराम तंवर ने कहा कि हरियाणा, यूपी सहित सभी प्रदेशों के गुर्जर समाज के हित में कर्नल बैसला के साथ हैं, उनका लिया फैसला समाज के लिए सर्वमान्य होगा। राजस्थान गुर्जर महासभा के जिला उपाध्यक्ष व कार्यक्रम संयोजक आरामसिंह गुर्जर ने अतिथियों का साफा व फूलमालाओं से स्वागत किया।
इन्होंने भी किया संबोधित
सम्मेलन को गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति केप्टन हरिप्रसाद तंवर, गुर्जर नेता महेंद्र सिंह खेड़ला, मानसिंह गुर्जर, कैप्टन सुमेरसिंह, हिम्मतसिंह पाड़ली, कंवरपाल अंधाना, आभा गुर्जर, नेहा गुर्जर, रवि चौधरी, खुशबू, रणजीता, आरती, मेघा व पूर्व जिला प्रमुख जयपुर रामचरण बोहरा सहित अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं