Wednesday, August 10, 2011

मूर्ति तभी सार्थक जब उनसे प्रेरणा लें: पायलट

एलबीएस स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्व. राजेश पायलट की मूर्ति का अनावरण
कोटपूतली. केन्द्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री सचिन पायलट ने कोटपूतली क्षेत्र को अपने पिता की कर्म भूमि बताते हुए कहा कि किसी भी शहीद या नेता की मूर्ति लगाना तभी सार्थक होता है जब हम उनके जीवन से कुछ प्रेरणा ले। पायलट मंगलवार को राजकीय एलबीएस स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्व. राजेश पायलट की मूर्ति के अनावरण समारोह में संबोधित कर रहे थे।
समारोह की अध्यक्षता पीसीसी अध्यक्ष डॉ. चंद्रभान ने की। विशिष्ट अतिथि सांसद लालचंद कटारिया ने छात्रसंघ अध्यक्ष सावंत गुर्जर की मांग पर सांसद कोटे से महाविद्यालय में कमरे बनवाने के लिए 5 लाख रुपए देने की घोषणा की। विशिष्ट अतिथि जिला प्रमुख हजारीलाल नागर, विशिष्ट अतिथि डॉ. विक्रमसिंह गुर्जर, राजस्व मंत्री मुरारीलाल मीणा, पीसीसी मेंबर शकुंतला रावत, हरियाणा सरकार के काबीना मंत्री राव दानसिंह, विधायक रामस्वरूप कसाना, कांग्रेस सेवादल के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश चौधरी, प्रधान बबीता मीणा ने भी समारोह को संबोधित किया। छात्रसंघ अध्यक्ष सावंत गुर्जर ने स्वागत भाषण पढ़ते हुए महाविद्यालय के विकास की मांग की। प्राचार्य प्रो. एमएल चौहान ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर स्व. पायलट की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार बनवारी लाल मिश्र को अतिथियों ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इससे पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष गुर्जर, छात्र नेता महेश सोडा, कांग्रेस के जिला प्रतिनिधि पं. सूर्यकांत शर्मा, पूर्व विधायक रामचन्द्र रावत, पूर्व जिलाध्यक्ष संदीप चौधरी, पूर्व पीसीसी मेम्बर श्रीराम यादव,  पीसीसी मेम्बर राजेन्द्र यादव, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष शंकरलाल सैनी, सरपंच केसरी हरसहाय गुर्जर, देव कसाना, पूर्व पार्षद हनुमान सैनी, कांग्रेस के इन्द्राज गुर्जर, रामोतार गुर्जर सहित अनेक जनप्रतिनिधियों ने अतिथियों का स्वागत किया। समारोह से पूर्व अतिथियों ने स्व. राजेश पायलट की मूर्ति का विधिवत पूजा अर्चना कर अनावरण किया। समारोह के दौरान ब्रह्मपाल नागर एंड पार्टी ने देश भक्ति से ओतप्रोत रागनी से अतिथियों का स्वागत किया तथा एक से बढ़कर एक रागनी सुनाकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं