Tuesday, August 30, 2011

एसटी में आरक्षण के लिए गुर्जर करेंगे अन्नागिरी

अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के प्रदेश सम्मेलन में राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा

दौसा. अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष व केंद्रीय पर्यवेक्षक रामसरन भाटी ने कहा कि एसटी कैटेगिरी में आरक्षण के लिए अन्ना हजारे की तरह गुर्जर अहिंसात्मक आंदोलन करेंगे। उन्होंने कहा कि आगामी आंदोलन में अहिंसात्मक रणनीति पर जोर रहेगा।
रविवार को देवनारायण मंदिर में महासभा के प्रदेश सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जम्मू में जिस तरह गुर्जरों को एसटी का दर्जा मिला हुआ है, उसी तरह यहां भी व्यवस्था होनी चाहिए। महिला प्रकोष्ठ की प्रदेशाध्यक्ष शील धाभाई ने कहा कि गुर्जरों को एसटी का दर्जा मिलना चाहिए।
मनफूल सिंह बने प्रदेशाध्यक्ष
 सम्मेलन में राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष भाटी ने मनफूल सिंह तुंगड़ को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की घोषणा की, जिसका सभी लोगों ने समर्थन किया। इस दौरान मनफूल सिंह को प्रदेशाध्यक्ष का नियुक्ति पत्र भी दिया।
इन्होंने भी किया संबोधित
राष्ट्रीय महामंत्री यशवंत भाई पटेल, श्रीनारायण फागणा, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधीर बैसला, बच्चूसिंह बैसला, युवा गुर्जर महासभा के प्रदेशाध्यक्ष सियाराम गुर्जर, सुरेश चांदना, दिनेश पटेल, रोहिताश्वर पाटिल, दत्तू भाई, नत्थू भाई ने भी संबोधित किया। मंच का संचालन राष्ट्रीय महामंत्री श्रीनाथ सिंह ने किया।
गहलोत सरकार ने दिया धोखा
सम्मेलन से पूर्व पत्रकार वार्ता में राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष रामसरन भाटी ने कहा कि आरक्षण के मामले में गुर्जरों को गहलोत सरकार ने धोखा दिया है। एसटी में आरक्षण की मांग अभी भी जारी है। गुर्जर समाज आरक्षण की लड़ाई को अहिंसात्मक तरीके से लड़ेगा।
51 किलो की माला पहनाई
मनफूल सिंह, हरदेव सिंह पटेल, महावीर रलावता, नरसी डोई, विजय सिंह मोराड़ी, नरसी कसाना, कैलाश भेड़ी, जगदीश सबलपुरा ने राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष को 51 किलो की माला पहनाई। अतिथियों के स्वागत में द्वार भी लगाए गए।
(दैनिक भास्कर से साभार)

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं