शादी में न बैंड बजेगा न होगा फायर

Powered by Blogger.
बटारखाप की पंचायत में समाज सुधार के कई निर्णय
अंबेहटा (सहारनपुर-उत्तरप्रदेश). समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर करने के लिए चकवाली के शिव मंदिर में गुर्जर समाज की बटारखाप के सात गांवों की पंचायत हुई। इसमें निर्णय किया गया कि गुर्जर अब शादी में न बैंड बजवाएंगे और न ही डीजे। इसके अलावा गमी में भी रस्म पगड़ी या तेरहवीं पर ही जाएंगे।
पंचायत की अध्यक्षता विजयपालसिंह ने की तथा संचालन भोपाल सिंह ने किया। पंचायत में ढायकी के पूर्व प्रधान रकम सिंह, सत्यपाल सिंह सेवाराम, जयपाल सिंह, अशोक कुमार, चकवाली के प्रधान कुलबीर सिंह, सुखपाल, इलम सिंह, कान सिंह, मेघराज, रामनाथ, यशपाल, बलवीर, भंवर सिंह, नकली राम, सहसपाल सहित शेरपुर ढायकी, बलालखेड़ी, बीराखेड़ी, ताताहेड़ी, जुखेड़ी और चकवाली गांवों से आए समाज के लोग मौजूद थे।
ये महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए
शादी में बैंड, डीजे व फायर पर रोक।
फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी नहीं कराई जाएगी।
सगाई में मात्र बिचौलिया नाई के साथ चिट्ठी लेकर जाएगा।
मौत होने पर रस्म पगड़ी या तेरहवीं पर ही जाएंगे।
इन निर्णयों पर अमल के लिए ग्राम स्तर पर कमेटी भी गठित की जाएगी।
नया गांव में पंचायत 16 को
समाज में व्याप्त बुराइयों को दूर करने को लेकर बटार खाप की पंचायत 16 अप्रैल को नया गांव में होगी।

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

Gadget

This content is not yet available over encrypted connections.

सबसे ज्यादा देखी गईं