Saturday, January 23, 2010

...और कांसे की थाली में बन गया कमल का फूल

भोपा ने उंगली पर थाली नचाई साथ में नृत्य करते हुए दिखाई देव भगवान की लीला, जोधपुरिया मेले में दूसरे दिन गुर्जर विकास परिषद एवं ट्रस्ट ने गुर्जर समाज की प्रतिभाओं का किया सम्मान
प्रतिभाओं को सम्मानित करते अतिथि।


(टोंक जिला). दाएं हाथ की उंगली पर सुदर्शन चक्र की मानिंद घूमती कांसे की थाली और गोठों की स्वर लहरियों से ताल मिलाते हुए नृत्य में मग्र भोपा। आधीरात को भोपा का नृत्य खत्म हुआ, जैसे ही थाली सीधी की तो देवनाराण के जयकारों से गूंज गया माहौल. थाली में कमल का फूल बन गया था। इसी में तो देवनारायण भगवान ने लिया था अवतार. वहां मौजूद लोगों के सिर अपने आप ही श्रद्धा से झुक गए ।
यह नजारा था देवनारायण जयंती पर जोधपुरिया में भर रहे लक्खी मेले के दूसरे दिन का। शुक्रवार को टोंक एवं निवाई में पंचायत चुनाव होने का हलका असर मेले की भीड़ पर दिखा लेकिन आस्था में कोई कमी नहीं थी। पीली लूगडिय़ों की ओट से भगवान को निहारती गुर्जरियां और रंग-बिरंगे साफों में देवरा ढोकते गुर्जर आस्था की एक नई कहानी गढ़ रहे थे।
इससे पूर्व 21 जनवरी की रात गुर्जर विकास परिषद  एवं ट्रस्ट की ओर से समाज की प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि भारतीय सेवा के अधिकारी अरुण कुमार गुर्जर, आयकर विभाग नई दिल्ली के संयुक्त आयुक्त थे। राजस्थान प्रशासनिक सेवा के लिए वर्ष 2009 में चयनित अधिकारी बलवन्त सिंह, करौली व बलदेवसिंह, सिकन्दरा सहित 102 प्रतिभाओं को प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया। इस दौरान मंदिर विकास के लिए 5 लाख की राशि भेंट करने वाले भामाशाह जगदीश गुर्जर तलाई गांव सागानेर को भी सम्मानित किया गया।

टोंक में भी निकाली शोभायात्रा

देवनारायण जयंती पर टोंक में भी में बैंड बाजों के साथ शोभायात्रा निकाली गई। सवाईमाधोपुर चौराहा स्थित गुर्जर छात्रावास से रवाना होकर शोभायात्रा डिपो, सिविल लाइन, पटेल सर्किल, घंटाघर होती हुई सांड बाबा के मंदिर पहुंची। शोभायात्रा के आगे-आगे ध्वज उठाए लोग चल रहे थे वहीं  भजन मंडली देवभगवान की गाथा गाती हुई चल रही थी। चारभुजा व्यायाम शाला के दो दर्जन से अधिक पट्टेबाज, उस्ताद मोहन लाल गुर्जर के नेतृत्व में पट्टेबाजी का प्रदर्शन कर रहे थे। शोभायात्रा में देवनारायण भगवान, साडूमाता व सवाईभोज महाराज की झांकियां साथ चल रही थीे। इस अवसर पर गुर्जर उत्थान सेवा समिति के अध्यक्ष मोहनलाल गुर्जर, महामंत्री हरिराम गुर्जर, प्रवक्ता देवकिशन गुर्जर, बद्री लाल गुर्जर, गजानंद धाबाई सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं