Thursday, January 14, 2010

आरक्षण में टालमटोल बर्दाश्त नहीं


कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला को लोगों ने कंधों पर उठा लिया।

कर्नल किरोड़ीसिंह बैसला अलवर में बरसे सरकार पर, समाज के लोगों से आंदोलन के लिए मांगे एक लाख गुर्जर
(अलवर जिला). कर्नल किरोड़ीसिंह बैसला ने राज्य सरकार पर आरक्षण मामले में टालमटोल का आरोप लगाते हुए कहा कि गुर्जर समाज इसे बर्दाश्त नहीं करेगा।  बैसला अलवर के घोड़ाफेर चौराहा स्थित गुर्जर छात्रावास में आरक्षण को लेकर हुई सभा बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि सरकार ऐसा करके गुर्जरों के साथ-साथ आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्ण वर्ग के साथ भी धोखा कर रही है। इस बार आंदोलन में गुर्जरों के साथ ३६ बिरादरी भी खड़ी रहेगी। उन्होंने अपने भाषण के दौरान समाज से आरक्षण आंदोलन के लिए एक लाख लोग मांगे। सभा में कैप्टेन हरप्रसाद, डॉ. रूपसिंह, विधायक हेमसिंह भडाना, पूर्व प्रधान महंत हरीदास,जिला संयोजक डॉ. लीलाधर गुर्जर, डॉ. गजराज यादव, धर्मवीर पाराशर आदि ने भी संबोधित किया।
आरक्षण मिल जाने दो, फिर कर देना कोर्ट मार्शल
कर्नल ने उन पर लगाए जा रहे आरोपों पर समाज को आरक्षण मिल जाने दो। इसके बाद यदि समाज की पंचायत उनका कोर्ट मार्शल भी करेगी तो वे उसमें हाजिर होकर सभी सवालों के जवाब देंगे।
मैं किसी पार्टी का गुलाम नहीं
कर्नल ने कहा कि  मैं किसी पार्टी का गुलाम नहीं हूं और ना ही मैंने आरक्षण की लड़ाई किसी पार्टी से मिलकर लड़ी है। समाज की लीडरशिप कमजोर है और केंद्र में आरक्षण का मुद्दा उठाने वाले नहीं हैं। इसलिए लोकसभा में आरक्षण की पैरवी करने के लिए चुनाव लड़ा था। यह बात उन्होंने भाजपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लडऩे संबंधी सवाल पर कही।

No comments:

Post a Comment

सबसे ज्यादा देखी गईं